श्रीमद्भागवत गीता: bhagwat geeta pdf in hindi

bhagwat geeta pdf in hindi, bhagavad gita pdf, bhagavad gita pdf english, bhagavad gita pdf hindi, bhagavad gita hindi pdf, bhagavad gita pdf in hindi,bhagavad gita pdf telugu

bhagwat geeta pdf in hindi, bhagavad gita pdf, bhagavad gita pdf english, bhagavad gita pdf hindi, bhagavad gita hindi pdf, bhagavad gita pdf in hindi,bhagavad gita pdf telugu

bhagavad gita summary

श्रीमद्भागवत गीता Download hindi pdf हिंदू धर्म में चार वेद हैं इन चार वेदों के सार गीता में लिखा गया है इसीलिए गीता को हिंदू धर्म में सर्वमान्य माना गया है गीता को ही हिंदू धर्म में सर्वोपरि ग्रंथ की संज्ञा दी गई है|

गीता ग्रंथ भगवान श्री कृष्ण के द्वारा अर्जुन को सुनाया गया था श्रीमद् भागवत गीता में श्री कृष्ण और अर्जुन के बीच संवाद का वर्णन किया गया है| 

 ऐसा माना जाता है कि श्रीमद्भागवत गीता पर हाथ रखने के बाद में कोई इंसान झूठ नहीं बोल सकता भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को कुरुक्षेत्र में खड़े होकर गीता का ज्ञान दिया था भले ही उन्होंने सिर्फ अर्जुन को ही गीता का ज्ञान दिया था लेकिन इसके माध्यम से उन्होंने संपूर्ण संसार को ज्ञान दिया है इसीलिए श्रीमद्भगवद्गीता हिंदू धर्म की पवित्र पुस्तकों में से एक है।

श्रीमद्भागवत गीता को भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को समझाने के लिए उपदेश दिया था भगवान श्री कृष्ण ने द्वापर युग में महाभारत के युद्ध के समय रणभूमि में श्रीमद्भागवत गीता का ज्ञान अर्जुन को दिया था बहुत से लोग गीता के बारे में जानकारी नहीं रखते हैं| 

गीता से जुड़ी हुई अनोखी और रोचक बातें हैं 

श्रीमद्भागवत गीता में कुल 18 अध्याय हैं और इसमें तकरीबन 700 श्लोक हैं भगवान गीता महाभारत के 18 अध्यायों में से एक भीष्म पर्व का हिस्सा भी है गीता में समस्त वेदों के निचोड़ को माना गया है ऐसा माना जाता है कि श्रीमद भगवत गीता पढ़ने से मनुष्य का कल्याण होता है जो भी व्यक्ति श्रीमद्भागवत गीता का पाठ करता है भवसागर से पार होकर भगवान के धाम को प्राप्त होता है श्रीमद भगवत गीता में भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को समझाते हुए कहा है कि इस संसार में जो भी है मैं स्वयं हूं आप मैं भी हूं तुमने भी मैं ही हूं अर्थात जो कुछ हूं वह मैं ही हूं.।

इसलिए मनाई जाती है गीता जयंती

ऐसा माना जाता है कि हरिया हरियाणा के कुरुक्षेत्र में जब ज्ञान दिया गया था उस दिन एकादशी की तिथि थी कलयुग के प्रारंभ होने के मात्र 30 वर्ष पहले इस ज्ञान को भगवान श्री कृष्ण के द्वारा दिया गया था और उस दिन रविवार का दिन था उन्होंने लगभग 45 मिनट तक भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को गीता का ज्ञान दिया था इसलिए इस दिन गीता जयंती भी मनाई जाती है।

bhagwat geeta गीता में यह बातें हैं खास 

गीता में भक्ति ,ज्ञान और कर्म से जुड़ी हुई तमाम ऐसी बातें बताई गई हैं जो मनुष्य के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है गीता के प्रत्येक शब्द पर एक अलग ग्रंथ लिखा जा सकता है गीता को समझना बहुत ही मुश्किल काम है परंतु गीता में बहुत सी बातें ऐसी हैं जो मानव के जीवन के लिए काफी लाभदायक हैं

गीता में सृष्टि की उत्पत्ति, जीव के विकास के क्रम, मानव उत्पत्ति, युवक धर्म-कर्म ,ईश्वर, भगवान, देवी देवता, उपासना, प्रार्थना ,यम नियम, राजनीति, युद्ध ,मोक्ष, अंतरिक्ष, आकाश, धरती संस्कार आदि से संबंधित समस्त प्रकार की जानकारी दी गई है जो भी व्यक्ति गीता को समझ लेता है उसे मोक्ष की प्राप्ति होती है हिंदू धर्म में कहा जाता है कि हिंदू धर्म में प्रत्येक व्यक्ति को प्रतिदिन पढ़ना चाहिए गीता पढ़ने से मनुष्य को कल्याण प्राप्त होता है।श्रीमद्भागवत गीता

1 thought on “श्रीमद्भागवत गीता: bhagwat geeta pdf in hindi”

Comments are closed.