swami vivekananda स्वामी विवेकानंद books pdf in hindi

स्वामी विवेकानंद pdf swami vivekananda, PDF download link is available below in the article, download PDF of swami vivekananda, swami vivekananda books in hindi the direct link given at the bottom of content.

List of books by swami vivekananda: कर्मयोग, ज्ञानयोग भक्तियोग प्रेम योग हिन्दू धर्म मेरा जीवन तथा ध्येय जाति, संस्कृति और समाजवाद वर्तमान भारत पवहारी बाबा मेरी समर – नीति जाग्रति का सन्देश भारतीय नारी ईशदूत ईसा धर्मतत्त्व शिक्षा|

Tags: swami vivekananda books in hindi,swami vivekananda books pdf in hindi,swami vivekananda books pdf,swami vivekananda in hindi pdf,vivekananda books in hindi,swami vivekananda books pdf in hindi download,vivekanand books in hindi pdf,swami vivekananda books in hindi download,books written by swami vivekananda in hindi pdf,swami vivekananda autobiography pdf in hindi,

Book Nameswami vivekananda books in hindi
Author
CategoryDharmik
No. of Pages130
Size20MB
LanguageHindi
QualityVery Good
Source / CreditsArchive.org
Download LinkClick here
Published/Updated09/06/2022

स्वामी विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता में हुआ था। और मृत्यु 4 जुलाई 1902 बेलूर मठ बंगाल रियासत ब्रिटिश राज में हुई जो कि अब बेलूर (पश्चिम बंगाल) में स्थित है।

स्वामी विवेकानंद ka बचपन childhood of swami vivekananda

स्वामी विवेकानंद का बचपन का नाम नरेंद्र नाथ दत्त था। नरेंद्रनाथ दत्त बचपन से ही कुशाग्र बुद्धि और नटखट बालक थे जो अपने साथी बच्चों के साथ शरारत बहुत करते थे और मौका मिलने पर वे अपने गुरुओं के साथ भी शरारत करने से कभी नहीं चूकते थे। 

बचपन से ही नरेंद्र swami vivekananda books pdf in hindi धार्मिक प्रवृत्ति के इंसान थे माता भुवनेश्वरी देवी के साथ पुराण रामायण महाभारत आदि ग्रंथों की कथा सुनने का बहुत शौक रखते थे और उनके घर में कथा वाचक रोज आते जाते रहते थे। 

More Free Ebooks Download

वे नियमित रूप से भजन कीर्तन भी किया करते थे और उनके परिवार में हमेशा भजन कीर्तन का माहौल रहता था परिवार में धार्मिक और आध्यात्मिक वातावरण होने के कारण बालक नरेंद्र के मन में बचपन से ही धार्मिक और आध्यात्मिक के प्रवर्ती के संस्कार बहुत गहरे पड़ गए थे। 

बालक नरेंद्र swami vivekananda books pdf in hindi के मन में परमपिता परमेश्वर को जानने की बहुत उत्सुकता रहती थी इसलिए भी कभी-कभी ऐसे प्रश्न अपने माता-पिता और कथा वाचक पंडित जी से पूछते रहते थे जिन को सुनने के बाद कथावाचक और पंडित जी भी चक्कर में पड़ जाते थे कि उनको क्या जवाब दिया जाए क्योंकि विशेष करके स्वामी विवेकानंद जैसे बालकों को समझाना बहुत मुश्किल होता था।

childhood of swami vivekananda in english

Swami Vivekananda’s childhood name was Narendra Nath Dutt. Narendranath Dutt was a sharp-witted and naughty child since childhood, who used to do a lot of mischief with his fellow children and when given a chance, he never missed to mischief with his gurus as well.

Since childhood, Narendra was a person of religious nature, with Mother Bhuvaneshwari Devi, he was very fond of listening to the stories of the Puranas, Ramayana, Mahabharata etc.

He also used to perform Bhajan Kirtan regularly and there was always an atmosphere of Bhajan Kirtan in his family. Due to the religious and spiritual environment in the family, the values ​​of religious and spiritual practices were deeply ingrained in the mind of child Narendra since childhood. .

शिक्षा

सन् 1871 में ही 8 साल की उम्र में स्वामी विवेकानंद ने ईश्वर चंद्र विद्यासागर मेट्रोपॉलिटन संस्थान में दाखिला लिया वहां वे स्कूल गए। उनका परिवार 1877 में रायपुर चला गया और कोलकाता में अपने परिवार की वापसी के बाद सन 1879 में एकमात्र ऐसे छात्र थे जिन्होंने प्रेसिडेंट कॉलेज प्रवेश परीक्षा में प्रथम स्थान हासिल किया।

 इतिहास, धर्म ,सामाजिक विज्ञान ,दर्शन ,कला ,साहित्य जैसे विषयों में उत्साहित पाठक थे।उनको उपनिषद ,वेद ,रामायण ,भगवत गीता ,महाभारत आदि पुराणों के अतिरिक्त अनेक हिंदू शास्त्रों, ग्रंथों पुराणों में बहुत अधिक रूचि थी भारतीय संगीत में भी उनको प्रशिक्षित किया गया था। वह सुबह उठकर नियमित रूप से शारीरिक व्यायाम किया करते थे और खेल में भी भाग लिया करते थे। 

1981 में ललित कला प्रथम श्रेणी से उत्तरीण की और 1884 में कला के क्षेत्र में स्नातक की डिग्री हासिल की। वे अपने गुरु श्री रामकृष्ण देव से बहुत प्रभावित है।

अमेरिका में धार्मिक सम्मेलन भाषण के कुछ अंश

मेरे अमेरिकी भाइयों और बहनों

आपने इस सम्मान सौहार्द पूर्ण के साथ हम लोगों का स्वागत किया है उसके प्रति हम लोगों का आभार प्रकट करने के निमित्त खड़े होते समय मेरा हृदय हर्ष से फूला नहीं समा रहा था। इस जगत में सन्यासियों की सबसे पुरानी परंपरा की ओर से मैं आपको धन्यवाद देता हूं और सभी धर्मों की माताओं की ओर से भी मैं धन्यवाद देता हूं और सभी हिंदुओं की ओर से मैं धन्यवाद देता हूं। swami vivekananda books pdf in hindi

इस मंच पर बोलने वालो मैं उन सभी वक्ताओं के प्रति अपना धन्यवाद करता हूं जो कि सभी संप्रदायों से आते हैं। हम भारत के लोग सभी धर्मों में अपना विश्वास रखते हैं और सहिष्णुता का पाठ पढ़ाते हैं हम सभी धर्मों का सच्चे मन से सम्मान करते हैं और उन्हें स्वीकार करते हैं।

मुझे भारत देश के व्यक्ति होने पर गर्व है कि हमने सभी धर्मों के उत्पीड़ित और शरणार्थियों को अपने देश और धर्म में आश्रय दिया है। हमने यहूदियों को अपने देश में शरण दी जिन्होंने दक्षिण भारत में आकर इसी वर्ष शरण ली है और उनका पवित्र मंदिर रोमन जाति के अत्याचार से नष्ट कर दिया  गया था।

विवेकानंद जी swami vivekananda books pdf in hindi द्वारा हिंदू धर्म, योग, एवं अध्यात्म पर लिखी गई सभी पुस्तकों को नीचे दिए गए पुस्तकों के नाम पर क्लिक कर डाउनलोड करें।

Download Links of swami vivekananda books pdf in hindi

Leave a Comment