इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 की सम्पूर्ण जानकारी :ऑनलाइन आवेदनरजिस्ट्रेशन फॉर्म, पात्रता, विशेषताएं एवं लाभ

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना | इंदिरा गांधी मातृत्व सहायता योजना | मातृत्व पोषण योजना | Indira Gandhi matritva poshan Yojana Rajasthan |  registration | इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना form | Indira Gandhi matrutva poshan Yojana

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना | इंदिरा गांधी मातृत्व सहायता योजना | मातृत्व पोषण योजना | Indira Gandhi matritva poshan Yojana Rajasthan |  registration | इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना form | Indira Gandhi matrutva poshan Yojana

महिलाओं को शशक्त बनाने के लिए राजस्थान सरकार द्वारा  इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 चलाई जा रही है शुरुआत में ये योजना सिर्फ चार जिलों प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, उदयपुर, डूंगरपुर में चलाई गई सरकार को इन जिलों में सफलता प्राप्त हुई जिससे इन योजना को पूरे प्रदेश में लागू करने का निर्णय लिया गया

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना को प्रदेशभर में लागू करने के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती ममता भूपेश की अध्यक्षता में 6 जुलाई 2022 को एक बैठक संपन्न हुई। जिसमें योजना के क्रियान्वयन पर ब्यापक चर्चा हुई। 

इस इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 योजना के उद्देश्य ,पात्रता,दस्तावेज आदि की पूरी जानकारी इस आर्टिकल से प्राप्त करेंगे।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा बजट सत्र 2022-2023 में इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की घोषणा की गई। इस योजना के तहत महिलाओं को दूसरे बच्चे के जन्म पर 6000 रु की आर्थिक मदद दी जाएगी। यह मदद अगले 3 साल तक दी जाएगी इससे बच्चे के पोषण में सुधार होगा और उनका स्वास्थ्य ठीक रहेगा। 

इस योजना को CIFF व GLOBAL जैसी संस्थाओं के सहयोग से संचालित किया जायेगा। शुरुआत में यह योजना चार जिलों में ही चलाई गई थी परंतु अब इसे पूरे प्रदेश में लागू कर दिया गया है। इस योजना का लाभ लाभार्थी को 5 किस्तों में दिया जायेगा, जिसके बारे में हम आगे विस्तार से बतायेंगे।

ख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना 2022: ऑनलाइन Registration व लाभ

इस योजना का आर्थिक प्रबंधन DBT के माध्यम से जिला के स्तर (जिला प्रोग्राम मैनेजर) ब्लॉक स्तर (ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर) तथा सेक्टर स्तर (आंगनवाड़ी केंद्रों) पर किया जाएगा।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 हाईलाइट प्रमुख

योजना का नामइंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022
उद्देश्यबच्चों तथा माताओं को पोषण देना
शुरुआतराजस्थान सरकार द्वारा
वर्ष2022
योजना की शुरुवात19 नवंबर 2020
लाभार्थीवे महिलाएं जो दूसरी बार गर्भवती हुई हों
अनुदान की राशि6000 हजार रुपए
समय सीमा3 साल तक
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन अथवा ऑनलाइन
ऑफिशल वेबसाइटwcd.rajasthan.gov.in

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के उद्देश्य

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का मुख्य उद्देश्य स्तनपान कराने बाली महिलाओं को पोषित करके बच्चों की मृत्यु दर को कम करना है। इस योजना के तहत स्तनपान कराने बाली महिलाओं को अगले 3 वर्ष तक 6000 रु की आर्थिक मदद मिलेगी। जिससे उनका पोषण सही तरीके से हो सकेगा और उनके स्वास्थ्य पर अच्छा प्रभाव पड़ेगा व मृत्यु दर कम होगी।  इसके अलावा जन्मजात बच्चों के वजन को बढ़ाना व कुपोषण को कम करना भी इस योजना का मुख्य उद्देश्य है। राजस्थान मातृत्व पोषण योजना 2022 के माध्यम से महिलाओं तथा बच्चों को अनेक रोगो जैसे कुपोषण, एनेमिया तथा टीवी जैसे बचाना है।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की विशेषतायें

●इस योजना का लाभ द्वितीय संतान के लिए दिया जायेगा।

● इसके अंतर्गत जो महिलाएं सरकारी नौकरी करती हैं उनको इस योजना का लाभ नहीं दिया जायेगा।

●किसी कारणवश गर्भ गिरने या गर्भ की समाप्ति होने पर भी Rajasthan Indira Gandhi matritva Yojana के लिए पात्र होंगे।

  • बाली महिलाएं भी Indira Gandhi matritva poshan Yojana Rajastha कि पात्र होंगी।

● इस योजना के अंतर्गत आंगनवाड़ी, आशा सहायकों को भी शर्तों के साथ लाभ दिया जायेगा।

● इस योजना के तहत पंजीकृत महिलाएं मातृ वंदना योजना का लाभ नही प्राप्त कर सकते।

Latest Posts

इंदिरा गांधी मातृव पोषण योजना के लाभ

  • इंदिरा गांधी मातृव पोषण योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को 6000 की आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  • यह सहायता पांच चरणों मे दी जायेगी।
  • इस योजना Indira Gandhi matritva poshan Yojana Rajastha  के तहत पंजीकरण होने पर 1000 रु की सहायता राशि दी जायेगी।
  • Indira Gandhi matritva poshan Yojana Rajasthan के द्वितिय चरण में गर्भावस्था के 6 महीने के अन्दर कम से कम 2 प्रसव पूर्व जांच (ANC) पुरे होने पर ₹1000 दिए जाएंगे।
  • राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के चौथे चरण में शिशु के 150 दिन के होने पर तथ सभी नियमित टीके लगाने पर (जैसे BCG, OPV, DPT, HEPATITIS- B) तथा जन्म पंजीकरण होने पर ₹2000 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी।
  • Indira Gandhi matritva poshan Yojana के 5 पांचवें तथा अंतिम चरण में दूसरी संतान पैदा हो जाने के 3 माह के अंदर स्थाई परिवार नियोजन के किसी भी तरीके अपनाए जाने पर ₹1000 दिए जाएंगे।
  •  इस इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 योजना के तहत महिलाएं लाभ प्राप्त कर खुद को पोस्तिक पोषण से युक्त कर अपने स्वास्थ्य को तथा बच्चे के पोषण एवं स्वास्थ्य को अच्छा बना सकती है।
  • Rajasthan Indira Gandhi matritva Yojana के चल्ते महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं तथा पर्याप्त पोषण प्रदान होगा एवं महिलाओं तथा बच्चों में कुपोषण जैसी समस्या से छुटकारा मिलेगा।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 की पात्रता

  • महिला को राजिस्थान का निवासी होना चाहिए।
  • महिला द्वारा किसी अन्य मातृव योजना का लाभ प्राप्त न किया जाना चाहिए।
  • महिला मुख्यता बीपीएल परिवार की होनी चाहिए।

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • फ़ोटो तथा मोबाइल नम्बर
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • संस्थागत प्रसव प्रमाण पत्र
  • शिशु के टीकाकरण सम्बन्धी कागज
  • परिवार नियोजन प्रमाण पत्र

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना की आवेदन प्रक्रिया

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना का सरकार द्वारा अभी कोई आधिकारिक वेबसाइट या पोर्टल जारी नही किया गया है इसकी जानकारी मिलते ही हम आपको आर्टिकल के माध्यम से सूचित करेंगे

इस्के लिये आप हमारे नोटिफिकेशन  को स्वीकृति दे सकते है

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 हेल्पलाइन नंबर

Indira Gandhi matritva poshan Yojana का जारी हेल्पलाइन नंबर 181 है । आप इस नंबर  पर कॉल करके इस योजना से जुड़ी सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं तथा इस योजना से संबंधित शिकायत एवं समाधान के लिए सरकार की वेबसाइट  https://sampark.rajasthan.gov.in  पर जाकर शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

समीक्षा

इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 की पूरी समीक्षा करने के बाद यह कहा जा सकता है कि यह योजना गर्भवती महिलाओं एवं उनके बच्चों के पोषण एवं स्वास्थ्य के लिए काफी ज्यादा लाभदायक साबित होगी। इस योजना से राजस्थान प्रदेश में कुपोषण, टीवी, एनीमिया जैसी बीमारियों से छुटकारा मिलेगा।

मित्रो अगर आपको योजना का यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर अवश्य करें एवं अन्य योजनाओं की जानकारी के लिए नोटिफिकेशन बटन अवश्य दबा लें।

FAQ 

प्रश्न- इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 क्या है?

उत्तर- इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना राजस्थान सरकार के द्वारा शुरू की गई है इसमें स्थानीय महिलाओं को कुपोषण से छुटकारा दिलाने के लिए उन्हें ₹6000 धनराशि  की आर्थिक सहायता दी जाएगी। यह सहायता उन्हें दूसरी बार गर्भधारण अर्थात दूसरी संतान करने पर मिलेगी।

प्रश्न- इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 कब लागू हुई?

उत्तर- यह सरकारी योजना 19 नवंबर 2020 को लागू हुई।

प्रश्न- इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना 2022 का लाभ किन महिलाओं को मिलेगा?

उत्तर- इस योजना का लाभ उन स्थानीय महिलाओं को मिलेगा जो दूसरी बार गर्भधारण करेंगे।

प्रश्न- इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना में अभी तक कुल कितने जिले शामिल हैं?

उत्तर- अभी तकइस योजना में  4 जिले शामिल है। यह है प्रतापगढ़ बांसवाड़ा उदयपुर डूंगरपुर