Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana 2022:राजीव गांधी किसान न्याय योजना ऑनलाइन आवेदन

राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022 CG Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana 2022 | राजीव किसान न्याय योजना ऑनलाइन आवेदन | Kisan Nyay Yojana List | छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान न्याय योजना Online फॉर्म | Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana Application | राजीव गांधी किसान न्याय योजना हिन्दी

राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022 CG Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana 2022 | राजीव किसान न्याय योजना ऑनलाइन आवेदन | Kisan Nyay Yojana List | छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान न्याय योजना Online फॉर्म | Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana Application | राजीव गांधी किसान न्याय योजना हिन्दी

नमस्कार दोस्तों, भारत का छत्तीसगढ़ राज्य जिसकी अधिकांश  जनसंख्या किसान है,जो की कृषि पर निर्भर है।  किसानों को आर्थिक लाभ देने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022 की शुरुआत की गई है।

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे करें इसकी क्या विशेषताऍ है ।सरकार का इस योजना के प्रति क्या उद्देश्य है समस्त सवालों के जवाब इस लेख के माध्यम से हम आपको  देंगे तो आप पूर्ण एकाग्रता के साथ हमारा ये छोटा सा लेख पढ़िए।

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana 2022

राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरुआत छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा 2022 में की गई इसके अंतर्गत प्रमुखता धान की खेती करने वाले किसानों को इसका लाभ दिया जाएगा, इसके अंतर्गत फसल के साथ-साथ खरीद की अन्य फसलों जैसे मक्का सोयाबीन अरहर तथा गन्ना उत्पादकों को हर साल सरकार की तरफ से ₹9000 प्रति एकड़ आदान सहायता राशि दी जाएगी ।

छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लिए आवेदन के लिए वर्ष 2022- 23 के लिए पंजीकरण प्रारंभ होने वाले हैं। इस योजना से किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और किसान समृद्ध जीवन जी पाएंगे।

राजीव गांधी किसान योजना के तहत वृक्षारोपण करने वाले किसानों को ₹10000 प्रति एकड़ अदान प्रदान किया जाएगा।राजीव गांधी किसान योजना के तहत वृक्षारोपण करने वाले किसान को अगले 3 वर्षों तक यह राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से छत्तीसगढ़ के करीबन 26 लाख किसानों को फायदा मिलेगा  इस योजना के तहत  किसानों में खेतिहर मजदूर से लेकर छोटे- बड़े सभी किसान शामिल हैं। 

यह भी पढ़ें- सुकन्या समृद्धि योजना 2022

राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022 के मुख्य बिंदु 

योजनाराजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022
उद्देश्यकिसानों की आमदनी को बढ़ाना
अनुदान9000-10000 रुपए प्रति एकड़
राज्य छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा
साल2022
योजना के लाभार्थीछत्तीसगढ़ के सभी किसान
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन अथवा ऑनलाइन
ऑफिशियल वेबसाइटhttps://rgkny.cg.nic.in

राजीव गांधी किसान या योजना का उद्देश्य (objective)

राजीव गांधी किसान योजना का प्रमुख उद्देश्य किसानों की पैदावार को बढ़ाकर उनके आर्थिक जीवन को मजबूत करना है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा शुरू की गई राजीव गांधी किसान न्याय योजना का मुख्य उद्देश्य धान और फसलों को करने वाले किसानों की आमदनी बढ़ाना है। 

आमदनी बढ़ने से किसान  शसक्त होगा इसके अलावा राजीव गांधी किसान योजना का उद्देश्य किसानों की खेती के सर्कल में वृद्धि करना है, जो किसान खेती करना छोड़ चुके हैं, उन्हें भी खेती की तरफ प्रोत्साहित किया जाएगा एवं इस योजना के तहत उन को आर्थिक लाभ देकर खेती की ओर दोबारा रुख किया जाएगा ।इस योजना का प्रमुख उद्देश्य किसानों का आर्थिक मजबूत सुखद और समृद्ध जीवन बनाना है।

राजीव गांधी किसान योजना की विशेषताएं 

  • राजीव गांधी ग्रामीण कृषि भूमिहीन मजदूर न्याय योजना के तहत वे  किसान भी लाभान्वित हो पाएंगे जिनके पास कृषि योग्य जमीन उपलब्ध नहीं है।
  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत सभी ऐसे  किसान इसका लाभ उठा सकेंगे
  • इस योजना के तहत संस्थागत भूमिधर कृषक बटाईदार आदि योजना का फायदा नहीं उठा सकेंगे
  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत लाभ लेने के लिए किसानों को पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा ।
  • किसान न्याय योजना में केवल खरीफ की निर्धारित फसलों पर सहायता राशि प्रदान की जाएगी एवं पात्रता का निर्धारण करते समय सीलिंग कृषि भूमि कानून का ध्यान रखा जाएगा।
  • छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान न्याय योजना का लाभ अगर कोई किसान गलत जानकारी दे कर लेता  और पकड़ा जाता है तो उस पर क़ानूनी रूप से कारवाही होगी और उससे पूरी राशि वसूली जाएगी।
  • छत्तीसगढ़ राजीव गांधी किसान न्याय योजना मे पंजीकृत किसान की मृत्यु हो जाने पर तहसीलदार द्वारा परिवार के नॉमिनी सदस्य के नाम से सहायता राशि दी जाएगी।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022 के लाभ (benefit)

  • Rajiv Gandhi Kisan nyaay Yojana 2022 राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022 का लाभ महिला व पुरुष किसान दोनों को समान रूप से दिया जाएगा।
  • राजीव गांधी ग्रामीण कृषि भूमिहीन मजदूर न्याय योजना के तहत पात्रता रखने वाले हर एक  किसानों को प्रति एकड़ 9000 से लेकर 10,000 रुपए तक का अनुदान दिया जाएगा।
  •  किसानों की आय में वर्द्धि होने से वह अपने परिवार का भरण  पोषण अच्छे से कर सकते हैं और  बच्चों को अच्छी शिक्षा दिला सकते हैं।
  • Rajiv Gandhi Kisan nyaay Yojana 2022 राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022  के तहत लाभ प्राप्त कर किसान अपनी आमदनी बढ़ा सकते हैं। धान के अलावा अन्य फसलें भी करके अपनी आय को दुगना कर सकते हैं जिससे वह सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनेंगे।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022 के लिए पात्रता eligibility

  • किसान को छत्तीसगढ़ का निवासी होना चाहिए।
  • किसान द्वारा धान की फसल को अनिवार्य रूप से करना होगा।
  • आदान सहायता केवल योजना में शामिल फसने पर पर ही दी जायेगी।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022 के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • ऋण पुस्तिका
  • बही खाता बुक
  • बैंक खाता  पासबुक 
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र

राजीव गांधी किसान न्याय योजना 2022 की आवेदन प्रक्रिया

  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत ऑफलाइन आवेदन करने के लिए किसान को सहकारी समिति में जाकर आवेदन करना होगा।
  • ऑनलाइन आवेदन के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा बनाई गई ऑफिसियल वेबसाइट अथवा पोर्टल पर लॉगिन करना होगा।
  • होमपेज पर क्लिक करें उसके बाद सामने नया पेज आयेगा जहाँ पर राजीव गांधी किसान न्याय योजना बाले बटन पर क्लिक करें।
  • आपके सामने राजीव गांधी किसान न्याय योजनाक फॉर्म खुलकर आयेगा।
  • फॉर्म में पूछी गयीं जानकारी जैसे मोबाइल नम्बर,नाम, पता,फसल ब्यौरा,आदि से सम्बंधित डॉक्युमेंट अपलोड करने होंगे।
  • आखिर में सबमिट इस तरह से सफलता पूर्वक आवेदन हो जायेगा।

FAQ

राजीव गांधी किसान न्याय योजना क्या है?

राजीव गांधी किसान न्याय योजना में किसानो को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर एक निर्धारित सहायता राशि प्रदान की जाती है|

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के लिए पंजीकरण कहाँ से करवाएँ?

योजना के लिए आवेदन सहकारी समिति,सहकारी शक्कर कारखाने या फिर कृषि उप संचालक के दफ्तर में करवाए जा सकते हैं।

राजीव गाँधी किसान न्याय योजना के लिए आवेदन की आखिरी तारीख क्या है?

किसान अपनी फसल के लिए आवेदन 1 जून से 30 सितम्बर तक करवाए जा सकते हैंऔर गन्ने की फसल के लिए प्रतिवर्ष आवेदन की आखिरी तारीख 30 सितंबर है।